Maruti outlook देश में सबसे बड़ी कार निर्माता के रूप में माना जाता है। कंपनी हैचबैक और कॉम्पैक्ट एसयूवी से लेकर सेडान और 7-सीटर प्रीमियम एमपीवी कारें बनाती है। पिछले कई दशकों से हर सेगमेंट में मारुति की कारों का प्रभाव रहा है। बिक्री के आंकड़ों के अनुसार, हर महीने सबसे ज्यादा बिकने वाली 10 कारों में अधिकांश मारुति की होती हैं, लेकिन अगर अपनी कैटेगरी में सबसे ज्यादा बिकने वाली कारों के बारे में बात करें तो इसमें एक कंपनी, मारुति सुजुकी, की दांत खट्टे करते नजर आ रही है। कुछ साल पहले लोग इस कंपनी की कारों को सड़क पर देखकर खतरा कहते थे, लेकिन आज ये कंपनी अपनी मजबूत कारों और एडवांस तकनीक के बदौलत मारुति सुजुकी और हुंडई जैसी कंपनियों को कड़ी टक्कर दे रही है।

दरअसल, यहां हम बात कर रहे हैं टाटा मोटर्स की जो इन दिनों कुछ कार सेगमेंट में मारुति से लोहा ले रही है. जी हां, भले ही मारुति सबसे ज्यादा हैचबैक कारें बेच रही हो लेकिन एसयूवी की बिक्री के मामले में टाटा मोटर्स ने मारुति को पीछे छोड़ दिया है. टाटा की पंच और नेक्सॉन एसयूवी कुछ महीनों से लगातार बढ़िया प्रदर्शन दे रही हैं.

cng cars with sunroof, cng cars with sunroof in india, sunroof variant of cng cars, buy cng cars with sunroof, tata altroz cng sunroof price, hyundai exter cng sunroof price, maruti brezza cng sunroof price, tata punch cng sunroof price

टाटा पंच अपनी बेहतरीन राइड क्वालिटी के लिए भी जानी जाती है.

पंच और नेक्सॉन की बिक्री बढ़ी
टाटा मोटर्स ने पिछले साल नवंबर में नेक्सॉन के फेसलिफ्ट मॉडल को लॉन्च किया था, इसके साथ ही कंपनी ने पंच को सीएनजी और सनरूफ में पेश कर दिया। नए डिजाइन के अलावा नेक्सॉन का न्यू इंटीरियर लुक और ADAS जैसा एडवांस सेफ्टी फीचर ग्राहकों को खूब पसंद आ रहा है. वहीं पंच में सीएनजी का अपडेट मिलने के बाद इसका माइलेज बेहतर हो गया है. इसके साथ ही दोनों एसयूवी को ग्लोबल NCAP में 5-स्टार की सेफ्टी रेटिंग भी मिल चुकी है जो इनके अधिक बिकने की सबसे बड़ी वजह है. कंपनी ने दोनों कारें को मार्केट में एक सुरक्षित फैमिली एसयूवी के रूप में पोजीशन कर दिया है जिसके वजह से इनकी बिक्री में पिछले साल से ही तेज उछाल देखा गया है.

बताते चलें कि जनवरी 2024 में सबसे ज्यादा बिकने वाली टॉप-5 कारों में दो कारें टाटा मोटर्स की हैं. ये कारें पंच और नेक्सॉन हैं जिनकी क्रमशः 17,978 यूनिट्स और 17,182 यूनिट्स की बिक्री हुई है. बीते महीने मारुति बलेनो नंबर-1 रही, जबकि पंच ने दूसरे और नेक्सॉन ने चौथे स्थान पर अपना कब्जा जमा लिया।

कैसी है टाटा पंच?
टाटा पंच में 1.2-लीटर 3-सिलेंडर पेट्रोल इंजन का इस्तेमाल कर रही है. यह इंजन 88 बीएचपी की अधिकतम पॉवर और 115 एनएम का पीक टॉर्क जनरेट करता है. इसमें 5-स्पीड मैनुअल गियरबाॅक्स के साथ 5-स्पीड ऑटोमैटिक गियरबॉक्स का ऑप्शन मिलता है. टाटा पंच पेट्रोल में 20.09 किलोमीटर और सीएनजी में 26.99 किलोमीटर की सर्टिफाइड माइलेज ऑफर करती है. इस एसयूवी में पंच में 7-इंच टचस्क्रीन डिस्प्ले, सेमी-डिजिटल इंस्ट्रूमेंट पैनल, ऑटो एयर कंडीशनिंग, ऑटोमैटिक हेडलाइट्स, कनेक्टेड कार टेक्नोलॉजी और क्रूज कंट्रोल जैसे फीचर्स मिलते हैं. पंच की कीमत 6 लाख रुपये से शुरू होकर 9.52 लाख रुपये (एक्स-शोरूम) तक जाती है.

पहले से बेहतर हो गई नेक्सॉन
नेक्सॉन का फेसलिफ्ट वर्जन लोगों को खूब पसंद आ रहा है. कंपनी ने इसे पूरी तरह नया फ्रंट और बैक डिजाइन दे दिया है, जिससे इसका लुक पहले से ज्यादा दमदार हो गया है. कार के अंदर अब नया 2-स्पोक स्टीयरिंग व्हील, नया डैशबोर्ड लेआउट और नया इंटीरियर कलर मिलता है.

टाटा नेक्सन में पेट्रोल और डीजल दोनों इंजन विकल्प मिलते हैं. इसमें पहला 1.2-लीटर टर्बो पेट्रोल इंजन है जो 120 बीएचपी पॉवर और 170 एनएम का टॉर्क जनरेट करता है. वहीं दूसरा 1.5-लीटर डीजल इंजन है जो 115 बीएचपी पॉवर और 260 एनएम टॉर्क का आउटपुट देता है. ट्रांसमिशन विकल्प में 5-स्पीड मैनुअल, 6-स्पीड मैनुअल, 6-स्पीड एएमटी और एक नया 7-स्पीड डुअल क्लच ट्रांसमिशन (डीसीटी) शामिल है. डीजल यूनिट के साथ 6-स्पीड मैनुअल और 6-स्पीड एएमटी का विकल्प दिया गया है.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *